UP में कांग्रेस प्रवक्ता बनने के लिए हुई लिखित परीक्षा, सवाल देखकर नेताओं के छूटे पसीने

नई दिल्ली/लखनऊ: उत्तर प्रदेश कांग्रेस में बदलाव के नाम पर बेहद अजीबोगरीब घटना देखने को मिली. गुरुवार (29 जून) को प्रदेश कांग्रेस ऑफिस पर कांग्रेस का प्रवक्ता बनने के लिए लिखित परीक्षा लिया गया. ये परीक्षा कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता और मीडिया कन्वीनर प्रियंका चतुर्वेदी और नेशन मीडिया कॉर्डिनेटर रोहन गुप्ता की तरफ से लिया गया. इस दौरान करीब 70 कैंडिडेट्स ने ये परीक्षा दी. प्रियंका चतुर्वेदी ने बताया कि टेस्ट के परिणामों के बाद उम्मीदवारों की स्क्रीनिंग होगी.

कौन-कौन पूछे थे सवाल कौन-कौन पूछे थे सवाल
1. उत्तर प्रदेश में कितने मंडल, जिले एवं और ब्लॉक हैं?
2. उत्तर प्रदेश में लोकसभा की कितनी आरक्षित सीटें हैं?
3. 2004 एवं 2009 में कांग्रेस कितनी सीटों पर जीती थी?
4. लोकसभा 2014 एवं 2017 विधानसभा में कांग्रेस को कितने प्रतिशत मिले हैं?
5. उत्तर प्रदेश में कितनी लोकसभा सीटें और विधानसभा सीटें हैं?
6. उत्तर प्रदेश में एक लोकसभा सीट में कितनी विधानसभा सीटें आती हैं?
7. किन लोकसभा सीटों पर मानक से कम या ज्यादा सीटें हैं?
8. प्रवक्ता का कार्य क्या होता है?
9. आप प्रवक्ता क्यों बनना चाहते हैं?
10. मोदी सरकार की असफलता के प्रमुख बिंदु क्या-क्या हैं?
11. योगी सरकार की असफलता के प्रमुख बिंदु क्या हैं?
12. मनमोहन सिंह सरकार की उपलब्धियां क्या-क्या थीं?
13. आज समाचार पत्र में तीन प्रमुख खबरें क्या हैं? जिन पर कांग्रेस प्रवक्ता बयान जारी कर सकें.
14. प्रमुख हिंदी/अंग्रेजी एवं उर्दू अखबार तथा चैनलों के नाम.

कैंडिडेट्स के छूटे पसीने
इसमें यूपी में आरक्षित सीटें, मोदी सरकार और योगी सरकार की असफलता, मनमोहन सरकार की उपलब्धियां बताने से लेकर तमाम सवाल पूछे गए. सवाल देखकर कैंडिडेट्स के पसीने छूट गए. जानकारी के मुताबिक, टेस्ट के परिणामों के बाद उम्मीदवारों की स्क्रीनिंग होगी. जहां इंटरव्यू का सामना करने के बाद उनके चयन पर फैसला होगा. दो से तीन दिन के अंदर इस कमेटी की घोषणा कर दी जाएगी.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

कबड्डी मास्टर्स चैम्पियनशिप : भारत ने पाकिस्तान को 36-20 से दी करारी शिकस्त, टि्वटर पर भी उड़ा मजाक

दुबई: प्रबल दावेदार भारत ने दुबई में शुरुआती कबड्डी मास्टर्स चैम्पियनशिप के शुरुआती मैच में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 36-20 से मात देकर शानदार आगाज किया. भारतीय कप्तान अजय ठाकुर की बदौलत भारत ने ब्रेक तक 22-9 से बढ़त बना ली थी और इसके बाद उसने मुड़कर नहीं देखा. ठाकुर ने 15 रेड अंक बनाए और वह टैकल करने में भी इतने ही मजबूत रहे, जिससे टीम ने 12 और अंक जुटाए. भारत ने हाफ टाइम तक 13 अंक की बढ़त बना ली थी.

अजय ठाकुर को पूरा श्रेय देते हुए भारतीय कोच श्रीनिवास रेड्डी ने कहा, ‘‘उन्होंने उनके दोनों कॉर्नर पर कब्जा किया और उनके डिफेंस को तोड़ दिया.’’ पाकिस्तानी टीम कहीं भी भारत के खिलाफ लय में नहीं दिखी और उनके कोच नबील अहमद ने वीजा परेशानियों के कारण टीम के देरी से आने की बात कही.

उन्होंने कहा, ‘‘हम आज यहां सुबह सात बजे पहुंचे और अभ्यास करने का हमें जरा भी समय नहीं मिला. हमें आगामी मैचों में सुधार की उम्मीद है.’’

नौ दिन तक चलने वाले टूर्नामेंट में छह देश भाग लेंगे जिसमें फुटबॉल क्रेजी लैटिन अमेरिकी देश अर्जेंटीना भी खेल रहा है जो अहमदाबाद में 2016 विश्व कप में खेलने के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दूसरी बार इस खेल में शिरकत कर रहा है. कीनियाई टीम भी यहां अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पदार्पण कर रहा है. वर्ष 2004 ओलंपिक रजत पदक विजेता राठौड़ ने कहा, ‘‘कबड्डी ओलंपिक खेल बनने में सक्षम है. उम्मीद है कि जब कबड्डी ओलंपिक में आएगी तो हम इसमें पहला पदक जीतेंगे.’’

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

तमिलनाडु की अनुकृति वास ने जीता मिस इंडिया का खिताब, मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर ने पहनाया ताज

नई दिल्ली: फेमिना मिस इंडिया 2018 के रिजल्ट्स का इंतजार कर रहे लोगों का इंतजार खत्म हो गया है. मिस इंडिया 2018 का खिताब तमिलनाडु की अनुकृति वास ने अपने नाम किया. अनुकृति ने 29 प्रतियोगियों को हरा कर इस खिताब को जीता. देर रात तक चली इस प्रतियोगिता में मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर ने अनुकृति को ताज पहनाया.

मुंबई में आयोजित हुए इस कॉन्टेस्ट में हरियाणा की रहने वाली मीनाक्षी चौधरी फर्स्ट रनर-अप बनीं और सेकेंड रनर-अप आंध्र प्रदेश की रहने वाली श्रेया राव बनीं. वहीं दिल्ली की रहने वाली गायत्री भारद्वाज, झारखंड की रहने वाली स्टेफी पटेल टॉप 5 में शामिल थीं.

फेमिना मिस इंडिया 2018 की यह शाम सितारों से सजी रही. इस दौरान देशभर से चुनकर आईं खूबसूरत कंटेस्टेंट्स ने ताज के अपनी दावेदारी पेश की लेकिन सबको पीछे छो़ड़ते हुए अनुकृति ने ताज अपने नाम किया. अनुकृति पेशे से खिलाड़ी और डांसर हैं. अनुकृति अपनी मां का सपना पूरा करने के लिए फ्रेंच में बीए कर रही हैं. अनुकृति बाइक चलाना पसंद करती हैं और सुपरमॉडल बनना चाहती हैं.

आपको बता दें कि कॉन्टेस्ट में जज पैनल में बॉलीवुड एक्ट्रेस मलाइका अरोड़ा, एक्टर बॉबी देओल, कुनाल कपूर, क्रिकेटर इरफान पठान और के.एल राहुल शामिल हुए थे. इसके अलावा 2017 में मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने वालीं मानुषी छिल्लर भी यहां मौजूद थीं. इस कार्यक्रम को बॉलीवुड के मशहूर फिल्ममेकर करण जौहर और एक्टर आयुष्मान खुराना ने होस्ट किया. वहीं माधुरी दीक्षित, करीना कपूर और जैकलीन फर्नांडीज ने इवेंट में जबरदस्त डांस परफॉर्मेंस से समा बांधा. आपको बता दें कि अनुकृति 2018 में मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

हवाला से जुड़े नोएडा प्राधिकरण के इंजीनियर बृजपाल चौधरी के तार, अब और कसेगा शिकंजा

नई दिल्ली/नोएडा: नोएडा प्राधिकरण के निलंबित सहायक परियोजना अभियंता बृजपाल चौधरी अस्पताल से मिली छुट्टी के बाद घर लौट गया है. लेकिन, उसकी मुश्किलें कम होती नजर नहीं आ रही हैं. बृजपाल चौधरी के तार हवाला से जुड़ते नजर आ रहे हैं. बृजपाल चौधरी की कैराना उपचुनाव में फंडिंग की संलिप्तता सामने आ रही है. ऐसे में जल्द ही आयकर की सर्वे रिपोर्ट के आधार पर प्रवर्तन निदेशालय इस मामले में बृजपाल पर शिकंजा कस सकता है. आयकर विभाग की टीम ने फंडिंग के मामले पर कई चार्टर्ड एकाउंटेंट्स सहित कई लोगों से भी पूछताछ शुरू कर दी है. खबरों के मुताबिक, बेनामी संपत्ति की तलाश में जिन दस्तावेजों को जब्त किया गया है. उसमें हवाला के जरिए बड़ी रकम खपाने की बात कही जा रही है.

बृजपाल का पॉलिटिकल कनेक्शन
ये रकम कैराना उपचुनाव के दौरान गठबंधन सरकार की ओर इशारा कर रही है. इसको लेकर जांच अधिकारी भी आशंकित हैं. अभी तक इसे नोएडा प्राधिकरण के काले धन के इंजीनियर यादव सिंह से नहीं जोड़ा जा रहा था. लेकिन, इसके पॉलिटिकल कनेक्शन के जरिये ये बड़ा मामला बनता जा रहा है. ऐसे में जल्द ही इस मामले पर ईडी की टीम भी बृजपाल को निशाने पर लेकर पूछताछ कर सकती है. इससे न सिर्फ बृजपाल की, बल्कि उनके बेटे अंकुर चौधरी की भी मुश्किलें बढ़ सकती हैं.

राजनीति में आ सकता है भूचाल
हाल ही में जितने भी मामले आयकर की जांच टीम के संज्ञान में आए हैं, सभी में प्रवर्तन निदेशालय की टीम की उपस्थिति चल रही है, ऐसे में अब इस कार्रवाई से सीधे को भी यादव सिंह की कार्रवाई से सीधे जोड़कर देखा जा रहा है. ऐसे में ये उम्मीद जताई जा रही है, कि जैसे ही इस मामले में शिंकजा कसा जाएगा, कई और राजनीतिक दलों के नेताओं के नाम सामने आने लगेंगे, जो उत्तर प्रदेश की राजनीति में नया भूचाल ला सकते हैं, क्योंकि ब्रजपाल की राजनीतिक गलियारों में अच्छी पैठ मानी जा रही है.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

तेलंगाना में सत्ताधारी TRS के नेता ने पार की सारी हदें, महिला की छाती पर मारी लात

नई दिल्ली : तेलंगाना के निजामाबाद से एक शर्मनाक वाकया सामने आया है. यहां पर सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) के मंडल प्रजा परिषद के अध्यक्ष इम्मादी गोपी और एक महिला के बीच जमीन विवाद में बहस इस कदर बढ़ी कि उन्होंने महिला की छाती पर लात मार दी. इसके बाद उनके खिलाफ इस मामले में केस दर्ज हो गया है.

मामला तेलंगाना के निजामाबाद जिले के इंदालवई गांव का है. यहां पर टीआरएस के नेता गोपी और महिला के बीच जमीन विवाद को लेकर बहस हो रही थी. इसी दौरान महिला ने उन्हें मारने के लिए चप्पल उठाई. एक महिला ने उन पर चप्पल से हमला कर दिया. इसके बाद उन्होंने महिला को बेरहमी से लात मार दी. हालांकि इसके बाद वहां खड़े एक व्यक्ति ने उन्हें जोर से धक्का दे दिया.

कहा जा रहा है कि महिला के परिवार ने गोपी से एक जमीन खरीदी थी, लेकिन वह उसका पजेशन उन्हें नहीं दे रहे थे. मामले में देरी होते देख महिला और उसके परिवार वाले गोपी के घर के सामने प्रदर्शन कर रहे थे.

एएनआई के अनुसार, महिला ने गोपी से 33 लाख की प्रॉपर्टी दस महीने पहले खरीदी थी. इसके बाद गोपी ने इस जमीन का पजेशन महिला और उसके परिवार को नहीं दिया. पजेशन के बदले में वह उससे 50 लाख रुपए और मांगने लगे.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

2019 में सिर्फ 250 सीटों पर ही लड़ सकती है कांग्रेस, ये 44 सीटें किसी को नहीं देगी- सूत्र

नई दिल्‍ली (रवि त्रिपाठी) : 2019 में होने वाले आम चुनावों के लिए कांग्रेस ने महागठबंधन का ब्‍लू प्र‍िंट तैयार कर लिया है. सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर आ रही है कि कांग्रेस आजादी के बाद से सबसे कम लोकसभा सीटों (तकरीबन 250) पर चुनाव लड़ सकती है. सूत्र बता रहे हैं कि वह ऐसा इसलिए करेगी, ताकि महागठबंधन के जरिए मोदी लहर को रोका जा सके. इस पर स्थानीय स्तर की रिपोर्ट्स आने के बाद एंटनी कमेटी, कांग्रेस अध्यक्ष की सलाह से अंतिम निर्णय लेगी.

सूत्रों के मुता‍बिक, रणनीति के मुताबिक कांग्रेस की वह 44 सीटें किसी को नहीं देगी, जहां पिछले लोकसभा चुनाव में जीती थी. हालांकि बाकी सीटों को वह गठबंधन में रखेगी, लेकिन उन 224 सीटों पर चुनाव लड़ने का जोर गाएगी, जहां वह दूसरे नंबर पर रही थी. इनमें मध्यप्रदेश, राजस्थान और गुजरात जैसे राज्य शामिल हैं. यहां भाजपा के खिलाफ वही अकेली बड़ी पार्टी है.

इस तरह कांग्रेस करीब 250 सीटों पर लड़ने की रणनीति बना रही है. अगर गठबंधन में कहीं दिक्कत आती है, तो क्षेत्रीय दलों को विधानसभा में ज्यादा सीटें देकर लोकसभा 2019 के लिए समझौते को अंजाम दिया जा सकता है.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

ISI के इशारे पर हुई सेना के जवान औरंगजेब की हत्या: सूत्र

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर में भारत सरकार के संघर्षविराम से पाकिस्तान डरा हुआ है और इसी वजह से वह अपनी एजेंसी आईएसआई के जरिए कश्मीर में आतंक का माहौल पैदा कर रहा है. भारत की खुफिया एजेंसी के सूत्रों ने यह जानकारी दी है. दरअसल रमजान का महीना शुरू होते ही भारत ने संघर्षविराम की घोषणा की थी, जिसमें साफतौर पर यह संदेश देने की कोशिश की गई कि वे घाटी में शांति का महौल चाहते हैं, लेकिन शायद भारत का यह रवैया दुश्मनों को रास नहीं आया और रह-रहकर कश्मीर में सुरक्षाबलों और नागरिकों की हत्या होना जारी है.

भारतीय खुफिया एजेंसी के सूत्रों ने बताया कि कश्मीर में अपनी पकड़ को पाकिस्तान की जासूसी एजेंसी आईएसआई ढीला नहीं करना चाहती और इसी वजह से वह भारत के शांति के मंसूबों पर पानी फेरने के लिए कश्मीर में आतंकी हमलों को अंजाम देने में लगी है. भारतीय सेना के जवान औरंगजेब की हत्या इसी साजिश के तहत आईएसआई ने की और जिस तरीके से बीते गुरुवार (14 जून) को औरंगजेब की हत्या की गई उसके पीछे भी यही मकसद था कि लोगों को... खास तौर पर युवाओं डराया जाए, ताकि वे सेना में शामिल ना हों.

वास्तव में आईएसआई ऐसे सभी आवाज को भी दबाने की कोशिश कर रही है, जिससे कश्मीर में अमन-चैन का माहौल बनाया जा सके. हालांकि सुरक्षा एजेंसियां कश्मीर में संघर्षविराम को और बढ़ाने के मूड में बिल्कुल नहीं है और चाहती है कि आतंकियों के खिलाफ एक बार फिर से बड़े ऑपरेशन लॉन्च किए जाएं.


अपहृत सैनिक का गोलियों से छलनी शव मिला
सेना के एक जवान औरंगजेब का गोलियों से छलनी शव गुरुवार (14 जून) को पुलवामा से बरामद हुआ था. गुरुवार को दिन में ही आतंकवादियों ने ईद मनाने घर जा रहे सैनिक का अपहरण कर लिया था. पुलिस ने बताया कि कंपनी कमांडर के करीबी औरंगजेब ईद मनाने के लिए गुरुवार सुबह अपने घर राजौरी जा रहे थे कि उसी दौरान पुलवामा के कालम्पोरा से आतंकवादियों ने उनका अपहरण कर लिया.

पुलिस और सेना के संयुक्त दल को औरंगजेब का शव कालम्पोरा से करीब 10 किलोमीटर दूर गुस्सु गांव में मिला. उनके सिर और गर्दन पर गोलियों के निशान हैं. उन्होंने बताया कि 4 जम्मू कश्मीर लाइट इन्फेंटरी के औरंगजेब फिलहाल शोपियां के शादीमार्ग स्थित 44 राष्ट्रीय राइफल में तैनात थे. अधिकारियों ने बताया कि सुबह करीब नौ बजे यूनिट के सैनिकों ने एक कार को रोककर चालक से औरंगजेब को शोपियां तक छोड़ने को कहा. आतंकवादियों ने उस वाहन को कालम्पोरा में रोका और जवान का अपहरण कर लिया.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

LIVE: नया रायपुर में देश के पहले इंटीग्रेटेड कंट्रोल सेंटर का PM ने किया उद्घाटन

नई दिल्‍ली/रायपुर: छत्‍तीसगढ़ के एक दिन के प्रवास पर पीएम नरेंद्र मोदी रायपुर एयरपोर्ट पहुंच चुके हैं. यहां पर सीएम रमन सिंह ने पीएम का फूलों के साथ स्‍वागत किया. एयरपोर्ट से पीएम नया रायपुर के लिए रवाना हो गए हैं. नया रायपुर में इंटीग्रेटेड कंट्रोल कमांड सेंटर का पीएम ने उद्घाटन किया. पीएम इस सेंटर में 20 मिनट तक बिल्‍ड‍िंग का जायजा लेंगे. इस दौरान पीएम मोदी ने वहां मौजूद बच्‍चों से मुलाकात भी की. कुछ ही देर में भिलाई के लिए होंगे रवाना जहां पीएम विभिन्न कार्यक्रमों को लोकार्पण करेंगे.

रायपुर से जगदलपुर तक उड़ान योजना को देंगे हरी झंडी
छत्तीसगढ़ दौर पर पीएम मोदी केंद्र सरकार की ‘उड़ान’ योजना के तहत जनता को रायपुर से जगदलपुर तक यात्री विमान सेवा की भी सौगात देंगे. पीएम मोदी द्वारा इस विमान सेवा का शुभारंभ किया जाएगा. इस विमान सेवा की शुरुआत होने के बाद राज्य का आदिवासी बहुल बस्तर संभाग देश के हवाई यातायात के मानचित्र में शामिल हो जाएगा.

12 बजे पहुंचेंगे भिलाई
पीएम मोदी 11.05 बजे नया रायपुर से रवाना होकर 11.15 बजे ट्रिपल आईटी हेलीपैड पहुचेंगे. 11.20 बजे पीएम मोदी हेलीकाप्टर से भिलाई के लिए रवाना होंगे. 11.40 बजे भिलाई हेलिपैड पहुंंचने के बाद 11.55 बजे भिलाई स्टील प्लांट पहुंचेंगे. पीएम मोदी 11.55 बजे से 12.15 बजे तक भिलाई स्टील प्लांट का निरीक्षण करेंगे. पीएम मोदी 12.20 बजे प्लांट से रवाना होकर 12.30 बजे जयन्ति स्टेडियम पहुंचेंगे. 2.30 बजे रायपुर पहुचकर दिल्ली एयरफोर्स के विमान से वापसी करेंगे.

आईआईटी की रखेंगे आधारशिला
स्वागत भाषण के बाद 12.48 से 13.08 बजे तक पीएम विभिन्न कार्यक्रमों को लोकार्पण करेंगे. सबसे पहले मंच पर ही टीवी स्क्रीन के माध्यम से डेवलपमेंट और छत्तीसगढ़ विकास यात्रा का शो होगा. इसके बाद भिलाई इस्पात संयंत्र की विस्तार परियोजना को देश को समर्पित करेंगे. इसी बीच आईआईटी की आधारशिला रखेंगे और भारत नेट फेस-टू योजना का शुभारंभ भी करेंगे. जगदलपुर से रायपुर के बीच वायु सेवा का शुभारंभ वीडियो लिंक से करेंगे.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

PM Narendra Modi posts video of his morning exercises, inspires others to take up fitness challenge

New Delhi: Less than a month after accepting Indian cricket captain Virat Kohli's fitness challenge, Prime Minister Narendra Modi on Wednesday posted a video which shows him doing a number of exercises in the morning to 'refresh and rejuvenate' himself.

PM Modi, known to practice yoga regularly, is seen performing a number of asanas which appeared to vary in degrees of difficulty. Additionally, he also is seen practising breathing exercises which are known to improve the body's immunity - among several other benefits.

Most interestingly though, 67-year-old PM Modi can be seen walking on a track which he said was inspired by the five elements of nature. "Apart from Yoga, I walk on a track inspired by the Panchtatvas or 5 elements of nature - Prithvi, Jal, Agni, Vayu, Aakash. This is extremely refreshing and rejuvenating," he wrote in a message accompanying the video.

The government has been urging people at large to adopt a healthy lifestyle and do some form of exercise on a daily basis. Sports Minister Rajyavardhan Singh Rathore had initially challenged Kohli as part of  #HumFitTohIndiaFit campaign. Since, many celebrities and public figures have posted photos and videos of them doing exercises - urging fellow citizens to become active as well.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

खुशखबरी : 2 रुपये सस्ता हुआ पेट्रोल, डीजल में डेढ़ रुपये की कटौती

नई दिल्ली : इंटरनेशनल लेवल पर क्रूड ऑयल की कीमतों में आ रही कमी का असर घरेलू बाजार में पेट्रोल और डीजल के रेट पर दिखाई दे रहा है. लगातार 14वें दिन पेट्रोल की कीमत में 15 पैसे और डीजल में 10 पैसे की कटौती की गई. कर्नाटक चुनाव के बाद बीते 14 दिन में पेट्रोल 2 रुपये और डीजल 1 रुपये 50 पैसे सस्ता हो गया है. दिल्ली में पेट्रोल की कीमत घटकर 76 रुपये 43 पैसे और डीजल 67 रुपये 85 पैसे के स्तर पर पहुंच गया है. लगातार 14 दिन से हो रही गिरावट बावजूद भी मुंबई में पेट्रोल के रेट सबसे ज्यादा हैं. मुंबई में मंगलवार को पेट्रोल 84.26 रुपये और डीजल 72.24 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है.

9 जून को बड़ी कटौती
पिछले 14 दिन में शनिवार यानी 9 जून को डीजल और पेट्रोल के रेट में सबसे बड़ी कटौती गई. इस दिन एक लीटर डीजल के रेट में 32 पैसे और पेट्रोल में 42 पैसे की कटौती हुई. यह 14 दिन की सबसे बड़ी कटौती है. आपको बता दें पिछले एक महीने में तेल कंपनियों ने पेट्रोल पर 4 रुपये और डीजल पर करीब 3.50 रुपये का इजाफा किया था. कर्नाटक चुनाव के दौरान पेट्रोल-डीजल की कीमतों को होल्ड पर रखा गया था, जिसके बाद लगातार कीमतों में तेजी देखने को मिली. पिछले कुछ दिनों में इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड की कीमतों में आई गिरावट का असर घरेलू बाजार में भी देखने को मिल रहा है.

कीमतों में और आएगी गिरावट
क्रूड के दाम में गिरावट आगे भी जारी रहने की उम्मीद है. दरअसल, 22 जून को ओपेक देशों की बैठक होनी है, जिसमें प्रोडक्शन बढ़ाने या घटाने को लेकर फैसला होगा. सीनियर एनालिस्ट अरुण केजरीवाल का मानना है कि 22 जून तक क्रूड में ज्यादा तेजी के आसार नहीं हैं. वहीं, प्रोडक्शन बढ़ाने का फैसला लेते हैं तो क्रूड में तेज गिरावट बन सकती है. इसका फायदा घरेलू मार्केट में देखने को मिलेगा. इसके अलावा सरकार भी पेट्रोल-डीजल पर आम आदमी को राहत देने के लिए स्थायी समाधान तलाश रही है.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

13 हजार करोड़ के घोटाले में भगोड़ा नीरव मोदी मांग रहा है ब्रिटेन में शरण : रिपोर्ट

नई दिल्ली : दो अरब डॉलर से अधिक के पीएनबी धोखाधड़ी मामले में भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी लंदन में है और अब वह ब्रिटेन से राजनीतिक शरण मांग रहा है. करोड़ों का फर्जीवाड़ा करने वाले नीरव मोदी के बारे में  ये दावा भारतीय और ब्रिटिश अधिकारियों से बातचीत के बाद एक रिपोर्ट में किया गया है. भारतीय प्रवर्तन निदेशालय नीरव मोदी और उसके अंकल मेहुल चौकसी के खिलाफ जांच में लगा हुआ है. हालांकि ये दोनों अपने खिलाफ लगे आरोपों को नकारते रहे हैं.

करीब 13000 करोड़ का ये मामला इस साल के शुरुआत में तब सामने आया था, जब पीएनबी ने इसकी शिकायत की थी. तब से सेंट्रल एजेंसियां मामले की जांच और इन दोनों की खोज में लगी हुई हैं. इस मामले में नीरव मोदी और मेहुल चौकसी का कहना है कि उन दोनों ने केस दर्ज होने से पहले ही देश छोड़ दिया था. तभी से कहा जा रहा है कि वह दोनों लंदन में हैं. हालांकि नीरव मोदी को हांगकांग में भी देखा गया. इधर, ब्रिटेन के गृह विभाग का कहना है कि कि वे किसी भी व्यक्तिगत मामलों की जानकारी नहीं देता है. इस मामले में नीरव मोदी से उसका पक्ष जानने के लिए समाचार एजेंसी रायर्टस ने संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन उससे संपर्क नहीं किया जा सका है.


देश के दूसरे सबसे बड़े बैंक पंजाब नेशनल बैंक ने इससे पहले यह दावा किया था कि दो हीरा कारोबारी समूह के मालिक नीरव मोदी और उसके चाचा मेहुल चौकसी ने पिछले कई वर्षों के दौरान पीएनबी समेत कई अन्य भारतीय बैंकों विदेश स्थित ब्रांच से 2.2 बिलियन डॉलर का फर्जीवाड़ा किया. फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय और ब्रिटिश अधिकारियों के मुताबिक नीरव मोदी लंदन में है. यहां उसकी कंपनी का एक स्टोर है. अब वह ब्रिटेन में राजनीतिक शरण मांग रहा है. रिपोर्ट के अनुसार, ब्रिटेन के विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, कई बार ऐसे केस आ जाते हैं, जो भारत और ब्रिटेन के रिश्तों पर प्रतिकूल प्रभाव डालते हैं. लेकिन हम दोनेां ही देश कानून के अनुसार ही चलेंगे.


 भारतीय विदेश मंत्रालय का कहना है कि भारत पहले ही शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण की मांग कर चुका है जो किंगफिशर एयरलाइंस के दिवालिया होने के बाद पिछले लंदन भाग गया था. सीबीआई ने मई में नीरव मोदी, चौकसी और पीएनबी के चीफ उषा अनंतसुब्रमण्यम, बैंक क दो कार्यकारी निदेशक और नीरव मोदी से जुड़ी तीन कंपनियों समेत 25 से ज्यादा लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

पेंशन के लिए चक्कर काट रहा था बुजुर्ग, नहीं हुई सुनवाई तो सांप लेकर पहुंच गया तहसीलदार के ऑफिस

नई दिल्ली : अक्सर हमें सरकारी लापरवाही और सुस्ती के किस्से सुनने को मिलते ही रहते हैं. ऐसा ही एक किस्सा सामने आया कर्नाटक के गडक जिले से. यहां एक शख्स को अपनी ही पेंशन के लिए सरकारी अधिकारियों ने 8 महीने तक चक्कर कटवाए. इसके बाद भी उसकी बात नहीं सुनी. जब वह उनकी अफसरशाही से तंग आ गया तो उस व्यक्ति ने इससे निपटने का अनोखा तरीका खोज निकाला.

वह अपने गले में सांप लेकर तहसीलदार के ऑफिस में पहुंच गया और उसे वहीं छोड़ने की धमकी देने लगा. इसके बाद एक सरकारी अधिकारी ने उसकी समस्या को जल्द सुलझाने का वादा किया.

ये मामला दरअसल कर्नाटक के गडग जिले का है. यहां के रहने वाले एक बुजुर्ग माबू अपनी पैंशन के लिए सभी सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रहे थे. 68 साल के इस शख्स की पोस्ट ऑफिस से लेकर बैंक तक कहीं भी सुनवाई नहीं हुई. करीब 8 महीने तक तमाम दफ्तरों के चक्कर काट कर निराश हो चुके इस बुजुर्ग ने इसके बाद अपनी बात को सुनाने का एक तरीका निकाला. वह शुक्रवार को तहसीलदार के ऑफिस में सांप लपेटकर पहुंच गए.


उनके गले में सांप देखकर लोग चौंक गए. उन्होंने वहां जाकर धमकी दी और कहा, या तो मेरी पेंशन दो या फिर इस एक्शन के लिए तैयार रहो. उनकी इस तरह की धमकी से वहां मौजूद लोगों में एक तरह से भगदड़ मच गई. हालांकि इसके बाद एक दूसरे अधिकारी ने माबू को बुलाकर उनकी बात सुनी और उन्हें आश्वासन दिया कि जल्द से जल्द उनकी समस्या का निपटारा हो जाएगा. उस अधिकारी की बात पर भरोसा कर माबू वहां से चले गए.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

BSNL ने पेश किया अब तक का सबसे सस्ता प्लान, 99 रुपये में मिलेगा सब कुछ

नई दिल्ली : रिलायंस जियो (Reliance Jio) को टक्कर देने के लिए भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) ने चार नए ब्राडबैंड प्लान पेश किए हैं. कंपनी के इन प्लान में यूजर को 20 एमबीपीएस तक की स्पीड मिलेगी. बीएसएनएल के नए प्लान 99 रुपये से शुरू होकर 399 रुपये तक है. इनमें हर महीने 45 GB से लेकर 600 GB तक डाटा मिलता है. सबसे कम कीमत वाले 99 रुपये के प्लान में रोजाना 1.5 GB डाटा के साथ ही अनलिमिटेड कॉलिंग की भी सुविधा है.

जियो फाइबर ब्राडबैंड की भी चर्चा
बीएसएनएल ने नए प्लान ऐसे समय में पेश किए हैं जब चर्चा है कि जियो की तरफ से फाइबर ब्राडबैंड सर्विस शुरू की जाएगी, इसकी स्पीड 100 एमबीपीएस की होगी. इसमें 1000 रुपये से भी कम में जियो टीवी एक्सेस, अनलिमिटेड कॉल का ऑफर दिए जाने की भी खबर है. टेलीकॉम टॉक की रिपोर्ट के मुताबिक बीएसएनएल के नए प्लान को बीबीजी यूएलडी कॉम्बो ब्रॉडबैंड (BBG ULD Combo broadband) प्लान कहा जा रहा है.

अंडमान और निकोबार में उपलब्ध नहीं
पूरी डाटा लिमिट यूज करने के बाद यूजर को 1 एमबीपीएस की स्पीड मिलेगी. इन प्लान पर देशभर में अनलिमिटेड कॉलिंग का भी ऑफर दिया जा रहा है. ये ब्राडबैंड प्लान अंडमान और निकोबार के अलावा पूरे देश में उपलब्ध होंगे. BBG Combo ULD 45GB प्लान में रोजाना 1.5 GB डाटा दिया जाएगा. इस प्लान की कीमत 99 रुपये रखी गई है. सभी प्लान में एफयूपी लिमिट लागू होगी.

इसके अलावा 199 रुपये वाले BSNL BBG Combo ULD 150GB प्लान में यूजर को रोजाना 5 GB डाटा दिया जाएगा. वहीं BSNL BBG Combo ULD 300GB के लिए 299 रुपये चुकाने होंगे, इसमें हर दिन 10 GB डाटा मिलेगा. 399 रुपये वाले प्लान में हर महीने 600 GB डाटा दिया जाएगा. इस हिसाब से इसमें एक दिन में 20 GB डाटा होता है. बीएसएनएल के इन प्लान में 20 एमबीपीएस की स्पीड मिलती है, डेली लिमिट खत्म होने पर यह स्पीड 1 एमबीपीएस तक की रह जाती है.

ऊपर बताए गए चारों प्लान में बीएसएनएल मुफ्त ईमेल आईडी के साथ ही 1 GB स्टोरेज स्पेस भी दे रहा है. आपको बता दें कि इन प्लान को बीएसएनएल ने प्रमोशनल बेसिस पर शुरू किया है और इसका फायदा केवल नए ग्राहकों को ही मिलेगा. कंपनी का ऑफर 90 दिनों के लिए वेलिड है. रिपोर्ट के अनुसार नए यूजर्स को 500 रुपये सिक्योरिटी डिपॉजिट भी कराना होगा.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

दबंगों के डर से पलायन को मजबूर परिवार, घर के बाहर लिखा 'मकान बिकाऊ है'

नई दिल्ली/शामली: उत्तर प्रदेश के शामली में एक परिवार ने पलायन कर लिया है. खबर सामने आने के बाद पुलिस महकमे में भी हड़कंप मच गया. जानकारी के मुताबिक, दबंगों के मारपीट करने और पुलिस द्वारा कार्रवाई न करने के चलते वो पलायन कर रहे हैं. पीड़ित परिवार अपने मकान पर 'मकान बिकाऊ है' लिख कर पूरे परिवार के साथ गांव से पलायन कर गया है. आपको बता दें कि मामला जनपद शामली के थाना झिंझाना क्षेत्र के गांव केरटू का है. पीड़ित परिवार का कहना है कि कुछ दिन पहले पानी भरने को लेकर उनका एक समुदाय विशेष के कुछ लोगों के साथ विवाद हो गया था, जिसकी शिकायत पुलिस से की थी, लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं की. वहीं पुलिस का कहना है कि वो इस पूरे मामले की वो जांच कर रहे हैं.

पानी के लेकर हुआ था विवाद
जानकारी के मुताबिक, कुछ दिन पहले पानी भरने को लेकर उनका एक समुदाय विशेष के कुछ लोगों के साथ विवाद हो गया था. परिवार के मुताबिक, मामले की शिकायत उन्होंने पुलिस से की थी. उस समय पुलिस द्वारा उनकी कुछ सुनवाई हुई थी, लेकिन चुनाव के बाद दोबारा से दबंगों ने उनके साथ मारपीट की. पीड़ितों ने इसकी शिकायत फिर पुलिस से की लेकिन अब पुलिस ने उनकी कोई सुनवाई नहीं कर रही है.

गांव में विशेष समुदाय का डर
दबंगों के डर से एक और परिवार पलायन कर गया. लोकसभा चुनाव को बीते अभी ज्यादा दिन ही नहीं हुए और कैराना लोकसभा में एक समुदाय विशेष के डर से एक और परिवार पलायन कर गया. पलायन करने वाले परिवार का आरोप है, दबंगों ने उनके साथ रोज मारपीट करने और पुलिस द्वारा कार्रवाई न करने के कारण उन्हें ऐसा करना पड़ा. 

पलायन के शोर से पुलिस में हड़कंप
जानकारी के मुताबिक, गांव केरटू में परिवार का मुखियां अपने पूरे परिवार के साथ एपने ससुराल चल गया. परिवार का आरोप है कि समुदाय विशेष एक परिवार उनके साथ अक्सर मारपीट करता है, जिस कारण वो गांव से पलायन कर रहे हैं. वहीं, पलायन का शोर मचने पर पुलिस में हड़कंप मच गया. पुलिस का कहना है कि महिला का हैंडपंप से पानी भरने को लेकर विवाद हुआ था. उसमें कार्रवाई की गई है. 

क्या है पूरा मामला?
कैराना के केरटू गांव में एक परिवार ने किया पलायन
दबंगों पर मारपीट और पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप
ग्राम पंचायत के लगाए हैंडपंप से पानी को भरने को लेकर मारपीट का आरोप
2 मई, 29 मई और 18 मई को दबंगों पर मारपीट का आरोप
एक बार गांव के लोगों ने 25,000 रुपये देकर समझौता करवाया
बाद में दबंगों ने महिला के साथ फिर की मारपीट
पुलिस पर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने का आरोप
कार्रवाई नहीं होने पर परिवार करनाल चला गया
पलायन से पहले मकान के बाहर लिखा 'मकान बिकाऊ है'

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

आतंकियों को 3 साल की बच्‍ची पर भी नहीं आया रहम, पहले फेंका ग्रेनेड फिर चलाई गोलियां

नई दिल्‍ली : जम्‍मू-कश्‍मीर के शोपियां इलाके में आतंकियों ने ग्रेनेड से हमला किया है. आतंकियों इस बार हमले को शोपियां के सबसे भीड़भाड़ वाले बाजार बटपोरा चौक में अंजाम दिया है.  हमले में एक दर्जन से अधिक लोगों के हताहत होने की सूचना है. हताहतों में जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस के सुरक्षाकर्मी भी शामिल हैं. सभी को इलाज के लिए स्‍थानीय अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है.


हमले में हताहत हुई बच्‍ची सहित दो लोगों की हालत नाजुक
सुरक्षाबल के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार एक सुरक्षाकर्मी और तीन वर्षीय बच्‍ची सहित दो लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है. इन सभी को बेहतर इलाज के लिए शोपियां से श्रीनगर के लिए रेफर कर दिया गया है. वहीं आतंकी हमले की सूचना मिलते ही सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर ली है. हमले को अंजाम देने वाले आतंकियों की तलाश में सुरक्षाबलों की संयुक्‍त टीमें सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है.


शोपियां एसएचओ की बुलटप्रूफ गाड़ी पर फेंका ग्रेनेड
सुरक्षा बल से जुड़े सूत्रों के अनुसार रमजान का महीना होने के चलते इन दिनों जम्‍मू-कश्‍मीर के बाजारों में सामान्‍य से ज्‍यादा लोगों का आना जाना लगा रहता है. सोमवार दोपहर कुछ आतंकी शोपियां के सबसे व्‍यस्‍ततम बाजार बटपोरा चौक में पहुंचे, इसी दौरान गश्‍त पर निकले शोपियां के एसएचओ भी बटपोरा चौक पर पहुंच गए. पुलिस की पेट्रोलिंग टीम को देखकर आतंकियों ने ग्रेनेड से एसएचओ की बुलटप्रूफ गाड़ी पर ग्रेनेड से हमला कर दिया. ग्रेनेड के फटते ही चारों तरफ चींख पुकार मच गई. आतंकियों का मन इतने से भी नहीं भरा. अपनी जान बचाने के इरादे से भाग रहे लोगों पर आतंकियों ने गोलियों की बौछार कर दी.


आतंकियों की तलाश में सर्च ऑपरेशन जारी
हमले की ठीक बाद मौके से कुछ दूरी पर मौजूद सुरक्षाकर्मी भी हरकत में आ आए. सूत्रों के अनुसार चारों तरफ लोगों की भगदड़ होने की वजह से सुरक्षाकर्मियों को त्‍वरित कार्रवाई में परेशानियों का सामना करना पड़ा. इसी बीच भदगड़ का फायदा उठाकर आतंकी मौके से भागने में सफल रहे. आतंकियों की तलाश में सुरक्षाबलों की कई टीमों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी है. सुरक्षाबलों की संयुक्‍त टीम ने आतंकियों की तलाश में सर्च ऑपरेशन भी शुरू कर दिया है.

Source:-ZEENEWS

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

कश्मीर में पथराव के दौरान सीआरपीएफ की गाड़ी के नीचे आए तीन लोग, विरोध तेज

श्रीनगर: श्रीनगर में सीआरपीएफ की एक गाड़ी उस वक्त प्रदर्शनकारियों के निशाने पर आ गया, जब गाड़ी का ड्राइवर सीआरपीएफ के एक सीनियर अधिकारी को छोड़कर वापस आ रहा था. इसी दौरान पत्थरबाज़ों की भीड़ ने पूरी तरह से गाड़ी को घेर लिया और पत्थरबाज़ी करने लगे. ड्राइवर किसी तरह अपनी जान बचाते हुए गाड़ी को वहां से निकाल पाया. हालांकि, इस दौरान गाड़ी के पहिये के नीचे तीन लोग आ गये, जिसमें वे घायल हो गये. हालांकि, बाद में तीनों घायलों में से एक की बाद में मौत हो गई. हालांकि, बताया यह भी जा रहा है कि पहले गाड़ी के नीचे एक युवक आ गया, जिससे वह घायल हो गया. उसके बाद ही भीड़ उग्र हो गई.

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि यह घटना उस वक्त की है, जब सीआरपीएफ की गाड़ी अपने सीनियर अधिकारी को छोड़कर वापस आ रही थी. तभी प्रदर्शनकारियों ने गाड़ी को निशाने पर ले लिया. हालांकि, अभी तक घटना पूरी तरह से स्पष्ट नहीं हो पाया है.

मगर जो वीडियो फुटेज सामने आया है, उसमें साफ-साफ दिख रहा है कि सीआरपीएफ की गाड़ी भीड़ से घिरी हुई है और भीड़ उस गाड़ी में घुसने की कोशिश कर रही है, और ड्राइवर को बाहर निकालने की कोशिश कर रही है. एक और वीडियो क्लिप में देखा जा सकता है कि गाड़ी प्रदर्शनकारियों के बीच से निकलने की कोशिश कर रही है और पत्थर और ईंटों से भीड़ काफी नजदीक से गाड़ी पर हमला कर रही है.

हालांकि, सोशल मीडिया पर मौजूद कुछ तस्वीरों में यह भी कहा जा रहा है कि प्रदर्शन और पत्थरबाजी से पहले सीआरपीएफ की गाड़ी ने एक युवक को कुचल दिया, जिसके बाद यह प्रदर्शन तेज हो गया. हालांकि, जम्मू-कश्मीर पुलिस ने कहा कि कुछ चुनिंदा तस्वीरों से पूरी घटना का पता नहीं चल पाता है.

घटना के बाद नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने सीएम महबूबा मुफ्ती पर हमला बोला. बता दें कि इस मामले पर अभी तक मुख्यमंत्री की ओर से भी कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया- इससे पहले उन्होंने कश्मीरी युवक को जीप के सामने बांधा और प्रदर्शनकारियों को डराने के लिए गांव के चारों ओर घुमाया. अब वे प्रदर्शनकारियों पर सीधे अपनी जीप चढ़ा रहे हैं. क्या यह आपका नया तरीका है मुख्यमंत्री साहिबा? सीजफायर का मतलब नो गन्स, इसका मतलब जीप का इस्तेमाल होगा?

Source:-NDTV

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में एक और शव मिला, बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने कहा- हम शर्मिंदा हैं! शायद प्रजातन्त्र भी शर्मिंदा है!

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में एक और शव मिला है.पुरुलिया के डाभा गांव में यह शव बिजली के खंभे से लटका हुआ मिला.समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक शव 32 वर्षीय बीजेपी कार्यकर्ता दुलाल कुमार का है.बीजेपी ने दुलाल कुमार की मौत के लिए टीएमसी (तृणमूल कांग्रेस) को जिम्मेदार ठहराया है.हालांकि पुलिस का कहना है कि दुलाल का किसी पार्टी से संबंध था या नहीं, इसकी पुष्टि अभी नहीं हो पाई है.दूसरी तरफ, दुलाल कुमार का शव मिलने के बाद बीजेपी नेता और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने पश्चिम बंगाल सरकार और पुलिस प्रशासन को कटघरे में खड़ा किया है.उन्होंने ट्वीट कर कहा कि, 'हम शर्मिंदा हैं! मैंने कल रात पश्चिम बंगाल के ADG लॉ & ऑर्डर अनुज शर्मा से बहुत देर बात की.बलरामपुर के दुलाल की जान खतरे में है, यह बताते हुए उनसे किसी भी हाल में उसे बचाने के लिए अनेक बार कहा.उन्होंने मुझसे कहा था कि पुलिस पूरी ताकत से कोशिश कर रही है और मैं स्वयं पूर्ण प्रयास करूंगा.

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, 'ADG के पूर्ण प्रयास के बाद भी आखिर पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले में बीजेपी कार्यकर्ता दुलाल की लाश भी सुबह टॉवर पर लटकी हुई मिली है! हम शर्मिंदा हैं! शायद प्रजातन्त्र भी शर्मिंदा है!'. गौरतलब है कि, इससे पहले पिछले बुधवार यानी 29 मई को पुरुलिया के ही जंगल में त्रिलोचन महतो का लटका हुआ शव मिला था. आरोपियों ने हत्या कर लाश को पेड़ से टांग दिया था. भारतीय जनता पार्टी ने इसे राजनीतिक हत्या बताया था. 20 साल के त्रिलोचन महतो की लाश घर के पास ही नायलॉन की रस्सी ने लटकती मिली. इतना ही नहीं, त्रिलोचन महतो ने जो टी-शर्ट पहनी थी, उसपर एक पोस्टर चिपका मिला जिसपर लिखा था कि बीजेपी के लिए काम करने वालों का यही अंजाम होगा.

भाजपा नेताओं का दावा है कि हालिया पंचायत चुनाव में बीजेपी की ओर से त्रिलोचन की सक्रिय भागीदारी के कारण ही उसकी हत्या की गई है. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कार्यकर्ता की संदिग्ध हत्या को लेकर पश्चिम बंगाल की तृणमूल कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि उसने 'कम्युनिस्ट शासन की हिंसक विरासत' को पीछे छोड़ दिया है.' अमित शाह ने ट्वीट कर कहा था कि भाजपा के युवा कार्यकर्ता त्रिलोचन महतो की जिंदगी 'राज्य के संरक्षण में छीन ली गई' क्योंकि उनकी विचारधारा 'राज्य प्रायोजित गुंडों' से भिन्न थी. उन्होंने ट्वीट किया, 'पश्चिम बंगाल के बलरामपुर में हमारे युवा कार्यकर्ता त्रिलोचन महतो की निर्मम हत्या से गहरा दुख हुआ. संभावनाओं से भरा एक युवा जीवन राज्य के संरक्षण में बर्बरता से छीन लिया गया. उन्हें पेड़ से लटका दिया गया, क्योंकि उनकी विचारधारा राज्य प्रायोजित गुंडों से अलग थी.'

Source:-NDTV

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

इस राज्य में आज से सस्ता हो जाएगा पेट्रोल-डीजल, जानें कितने रुपये घटे दाम

नई दिल्ली: देशभर में पेट्रोल की कीमतों को लेकर लोगों के बीच नाराजगी देखने को मिल रही है. हालांकि, अब इनके दाम लगभग रोज कम किए जा रहे हैं. लेकिन रोजाना कीमत में सिर्फ कुछ पैसे कम होना लोगों को रास नहीं आ रहा है. वहीं ईंधन कीमतों में उछाल के बीच केरल की वाम मोर्चा सरकार ने जून से पेट्रोल व डीजल के दाम एक रुपये प्रति लीटर घटाने का फैसला किया है. राज्य सरकार इसके लिए बिक्रीकर में कटौती करेगी. 30 मई को हुई राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में इसका फैसला किया गया था. हालांकि, सरकार द्वारा तय की गई कटौती और शुक्रवार को ईंधन दाम में आई कमी के बाद केरल में एक जून को पेट्रोल के दाम एक रुपये दस पैसे कम हो गए. शुक्रवार को राज्य में इसके दाम 81.54 पैसे रहे.

मुख्यमंत्री पी विजयन ने संवाददाताओं से बात करते हुए बताया था कि, जनता को राहत देने के लिए सरकार ने ईंधन कीमतें घटाने का फैसला किया गया है. उन्होंने कहा कि नई कीमत इसी शुक्रवार से प्रभावी हो जाएंगी. मुख्यमंत्री ने कहा था कि इस कदम से राज्य के सरकारी खजाने को 509 करोड़ रुपये का सालाना नुकसान होगा.

लगातार तीसरे दिन सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल
डीजल और पेट्रोल की कीमतों में शुक्रवार (1 जून) को भी कटौती की गई. इस तरह से पिछले तीन दिनों में अबतक डीज़ल 11 पैसा सस्ता हुआ है, जबकि पेट्रोल में कुल 14 पैसे की कमी आई है. शुक्रवार को पेट्रोल 6 पैसे सस्ता हुआ है. इससे पहले पेट्रोल के दाम में बीते 30 मई को 1 पैसे और 31 मई को 7 पैसे की कटौती की गई थी. इस तरह से बीते तीन दिनों में पेट्रोल के दाम में कुल 14 पैसे की कमी आई है. शुक्रवार को डीजल 5 पैसे सस्ता हुआ है. इससे पहले डीजल के दाम में बीते 30 मई को 1 पैसे और 31 मई को 5 पैसे की कटौती की गई थी. इस तरह से बीते तीन दिनों में डीजल के दाम में कुल 11 पैसे प्रति लीटर की कमी आई है.

सरकारी तेल कंपनियों की ओर से जारी कीमत अधिसूचना के अनुसार, दिल्ली मे अब पेट्रोल की कीमत 78.29 रुपए प्रति लीटर और डीजल की कीमत 69.20 रुपए प्रति लीटर होगी. ईंधन की कीमत राज्यों के स्थानीय करों के हिसाब से बदलती हैं. सभी मेट्रो शहरों और अधिकतर राज्यों की राजधानी के मुकाबले दिल्ली में कीमतें सबसे कम हैं.

महानगरों में पेट्रोल की कीमत
दिल्ली - 78.29 रुपए प्रति लीटर, 31 मई की कीमत थी 78.35 रुपए
कोलकाता -  80.92 रुपए प्रति लीटर
मुंबई - 86.10 रुपए प्रति लीटर
चेन्नई - 81.28 रुपए प्रति लीटर

महानगरों में डीजल की कीमत
दिल्ली - 69.20 रुपए प्रति लीटर, 31 मई की कीमत थी 69.25
कोलकाता -  71.75 रुपए प्रति लीटर
मुंबई - 73.67 रुपए प्रति लीटर
चेन्नई - 73.06 रुपए प्रति लीटर

Source:-Zeenews

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

पीएम नरेंद्र मोदी ने इंडोनेशिया में मस्जिद का कुछ इस तरह किया दीदार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडोनेशिया की अपनी पहली आधिकारिक यात्रा के दौरान बुधवार को इस्तिकलाल मस्जिद भी गए. यह दक्षिण-पूर्व एशिया की सबसे बड़ी मस्जिद है. मस्जिद जाते समय प्रधानमंत्री मोदी के साथ इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विदोदो भी थे. इंडोनेशिया की आजादी की याद में इस मस्जिद का निर्माण किया गया और लोगों के लिए इसे 1978 में खोला गया था.

पीएम नरेंद्र मोदी ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘दुनिया की सबसे बड़ी मस्जिद में से एक, इस्तिकलाल मस्जिद जाकर बहुत प्रसन्न हूं.’’

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, ‘‘रमदान करीम. इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विदोदो के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रमजान के महीने में इंडोनेशिया की राष्ट्रीय मस्जिद और एक्षिण पूर्व एशिया में सबसे बड़ी इस्तिकलाल मस्जिद गए.’’

क्षमता के हिसाब से यह सुन्नियों की तीसरी सबसे बड़ी मस्जिद है. अरबी शब्द इस्तिकलाल का मतलब होता है आजादी.

पूर्व में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और बिल क्लिंटन, ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स, जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल और सउदी अरब के शाह सलमान इस मस्जिद में जा चुके हैं. इंडोनेशिया विश्व की सबसे बड़ी मुस्लिम आबादी वाला देश है. इसके बाद पाकिस्तान और भारत का नंबर आता है.

वहीं कांग्रेस की ओर से पीएम की इंडोनेशिया यात्रा की आलोचना की गई. कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इंडोनेशिया की आधिकारिक यात्रा के दौरान एक मस्जिद एवं कुछ दूसरे स्थलों पर जाने को लेकर कटाक्ष किया और कहा कि विदेश नीति फोटो खिंचवाने से नहीं चलती, बल्कि उसके लिए ठोस कदम उठाने होते हैं.

पार्टी ने यह भी कहा कि मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री रहते हुए 2013 में इंडोनेशिया का दौरा किया था और उस वक्त इंडोनेशिया और दक्षिणपूर्व एशिया के साथ भारत के रिश्ते को मजबूती प्रदान करने के लिए ठोस कदम उठाए गए थे. कांग्रेस प्रवक्ता आरपीएन सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘फोटो खिंचवाने से विदेश नीति नहीं चलती है.

Source:-Zeenews

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

8 राज्यों में हिंदुओं को मिल सकता है अल्पसंख्यक का दर्जा, अल्पसंख्यक आयोग जल्द करेगा फैसला

नई दिल्ली: आठ राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा मिल सकता है. मिली जानकारी के अनुसार, 14 जून को होने जा रही राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग की बैठक में इस बात पर फैसला लिया जा सकता है. आपको बता दें कि और बीजेपी नेता अश्विनी उपाध्याय ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कर आठ राज्यों को हिंदू अल्पसंख्यक का दर्जा दिए जाने की मांग की थी. इन राज्यों में लक्षद्वीप, जम्मू-कश्मीर, मिजोरम, नागालैंड, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर और पंजाब शामिल हैं.

याचिकाकर्ता और बीजेपी नेता अश्विनी उपाध्याय ने कहा था कि इन आठ राज्यों में हिंदू अल्पसंख्यक हैं. ऐसे में इन राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यकों वाले अधिकार मिलने चाहिए. आपको बता दें कि, साल 2011 की में हुई जनगणना के अनुसार लक्षद्वीप में 2.5, मिजोरम में 2.75, नागालैंड में 8.75, मेघालय में 11.53, जम्मू-कश्मीर में 28.44, अरुणाचल प्रदेश में29, मणिपुर में 31.39 और पंजाब में 38.40 प्रतिशत हिंदू हैं. 

अल्पसंख्यक आयोग ने याचिकाकर्ता अश्विनी कुमार उपाध्याय को चिट्ठी लिखकर जानकारी दी है कि 14 जून को होने वाली बैठक में आठ राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा दिए जाने की मांग पर चर्चा की जाएगी. आयोग ने अश्विनी कुमार से इस दिन अल्पसंख्यक आयोग के दफ्तर में दोपहर 3:30 बजे होने वाली बैठक में शामिल होने का अनुरोध किया है.

गौरतलब है कि, याचिकाकर्ता ने सुप्रीम कोर्ट से कहा था कि 23 अक्टूबर 1993 में नोटिफिकेशन जारी कर मुस्लिम समेत अन्य समुदाय के लोगों को अल्पसंख्यकों का दर्जा दिया गया था. उपाध्याय ने 2011 के जनगणना के आंकड़ों का हवाले देते हुए कहा था कि लक्षद्वीप, जम्मू-कश्मीर, मिजोरम, नागालैंड, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर और पंजाब में हिंदू अल्पसंख्यक हैं, लेकिन उन्हें इन राज्यों में यह दर्जा अभी तक नहीं मिला है. उन्होंने मांग की थी कि इन राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यकों को मिलने वाले अधिकार भी दिए जाएं.

Source:-Zeenews

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing