215 bombs keeping hidden in Bihar- Jharkhand


Patna bomb blasts

रांची, जागरण ब्यूरो। भाजपा की रैली के दौरान गत 27 अक्टूबर को पटना के गांधी मैदान में हुए सीरियल ब्लास्ट के आरोप में रांची से गिरफ्तार उजैर अहमद के खुलासे ने जांच एजेंसियों की नींद उड़ा दी है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) दिल्ली की टीम को उजैर ने बताया कि रांची व बिहार में अभी 215 बम और छुपा रखे हैं। जिनकी जानकारी इंडियन मुजाहिदीन के आतंकी तहसीन अख्तर और हैदर के पास ही है। इस खुलासे की जानकारी एनआइए ने दोनों राज्यों को दे दी है।

दिल्ली एनआइए टीम से झारखंड एनआइए को मिली जानकारी के अनुसार एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि आतंकी तहसीन व हैदर जून माह में ही लोटस कंपनी की कुल 400 घड़ियां रांची लाए थे। इससे 400 टाइम बम तैयार किए जाने थे, जिसमें से 257 बम तैयार हो चुके थे। इनमें से ब्लास्ट व बरामद बमों की संख्या 42 है। जबकि 45 लोटस घड़ियों के बारे में जानकारी मिल चुकी है। 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि उजैर यह नहीं बता सका कि शेष 215 बम कहां छुपा रखे हैं। उसने दावा किया शेष बम की जानकारी सिर्फ तहसीन व हैदर के पास है। इनके अलावा आइएम के किसी सदस्य को इस बम के बारे में नहीं पता। एनआइए की इस सूचना पर रांची पुलिस सतर्क हो गई है और बमों की बरामदगी के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है।

जांच एजेंसियों की पड़ताल में यह बात सामने आई है कि गया व पटना में हुए ब्लास्ट में एक ही प्रकार के बम का इस्तेमाल किया गया था। इसके अलावा गत सोमवार को रांची के हिंदपीढ़ी स्थित लॉज से बरामद नौ बम भी इसी तरह के थे। 

वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार गया में कुल 10 बम विस्फोट हुए थे और एक तैयार बम बरामद किया गया था। इसके अलावा पटना में सात बमों में धमाका हुआ और 11 तैयार बम बरामद किए गए। जबकि रांची में अब तक 13 तैयार बम व 16 लोटस घड़ियां बरामद की जा चुकी हैं।

Source- News in Hindi