Forest Department Stop The Taskar

संरक्षित वनक्षेत्र से हटाई जाएंगी घुमंतू जातिवनक्षेत्रों में बढ़ते दखल को रोकने के लिए वन विभाग ने संरक्षित वन क्षेत्रों के आसपास से घुमंतू जाति के लोगों को हटाने की तैयारी शुरू कर दी है. खासतौर से कार्बेट पार्क और राजा जी पार्क के आसपास के क्षेत्रों में यह अभियान चलेगा. प्रमुख वन संरक्षक वन्य जीव ने सभी डीएफओ और पार्क प्रशासन को निर्देश दिए हैं. 

दो रेंज से हटाए गए घुमंतू

वन विभाग राजा जी पार्क की दो रेंज चीला और गोहरी की सीमा से पहले ही घुमंतू जाति के लोगों को हटा चुका है. इसका नतीजा रहा कि राजा की पार्क के क्ब् टाइगर में से क्ख् टाइगर इन दोनों रेंज में ही है. इसके पीछे मानना है कि जिस क्षेत्र में घुमंतू जाति के लोग रहते हैं, वह जंगलों से पेड़ों से पत्तियां, घास काट देते हैं. जिससे वहां शाकाहारी वन्य जीव कम हो जाते हैं. ऐसे में टाइगर भी उस क्षेत्र में नीं रहते.

सुधारने को चलेगा अभियान

वन क्षेत्रों में बढ़ते बाहरी दखल के कारण जंगलों में संतुलन बिगड़ रहा है. जहां पर आबादी रहती है, उनके आसपास वन्य जीव आने से डरते हैं. वहीं संरक्षित वन क्षेत्रों की सीमा बहुत अधिक नहीं है. वन्य जीवों के रहने के लिए पर्याप्त जगह न होने से संतुलन बिगड़ रहा है. संतुलन बनाए रखने के लिए यह अभियान चलाया जाएगा. 

शिकारियों का भी है खतरा

वन क्षेत्रों के आसपास रहने वाले घुमंतू जाति के लोगों के रहने से शिकारियों का खतरा भी अध्ि1ाक रहता है. वन्य जीव शिकारी घुमंतू जाति के वेष में जंगलों के आसपास रहते हैं और मौका देखकर टाइगर, लैपर्ड, हाथी जैसे वन्य जीवों को मौत के घाट उतार देते हैं. ऐसे में शिकारियों को पकड़ना मुश्किल हो जाता है. See more http://inextlive.jagran.com/forest-department-stop-the-taskar-87259