Patan Airport Is Not Safe For Passengers Of Bihar

सेंट्रल सिविल एविएशन मिनिस्टर शहनवाज हुसैन ने नौ सितंबर 2002 को कहा था कि पटना एयरपोर्ट बंद नहीं होगा. इसके रनवे एक्सपैंशन के लिए बिहार सरकार जमीन मुहैया करवाएगी और उसका पैसा सेंट्रल गवर्नमेंट देगा. शहनवाज ने कहा था कि इस इनिनिशएटिव के बाद जयप्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा देश का सबसे बेहतर एयरपोर्ट बन जाएगा. गौरतलब है कि उस वक्त स्टेट गवर्नमेंट को आगाह किया गया था कि अगर एयरपोर्ट का एक्सपैंशन नहीं किया गय या यहां से नहीं शिफ्ट किया गया, तो पैसेंजर्स की सिक्योरिटी को देखते हुए सेंट्रल गवर्नमेंट इसे बंद करवा देगा. 

जू के पेड़ भी काटे गए थे

गौरतलब है कि तत्कालीन सिविल एविएशन के डीजी एचएस खोसला ने बिहार सरकार पर आरोप लगाया था कि स्टेट गवर्नमेंट एयरपोर्ट मामले पर हेल्प नहीं कर रही है. ऐसे में हमें पैसेंजर्स की सिक्योरिटी के मद्देनजर एयरपोर्ट को बंद ही करना पड़ेगा. तब डिपार्टमेंट की ओर से यह भी दलील दी गई थी कि एयरपोर्ट के बगल में स्थित संजय गांधी बोटैनिकल गार्डेन के बड़े-बड़े पेड़ सेफ उड़ान में बाधक बन रहे हैं.  http://inextlive.jagran.com/patan-airport-is-not-safe-for-passengers-of-bihar-90518

Source: Patna News